तूँ वो नहीं है


आज
कई दिनों बाद
आइना देखा
हाँ! पहचानता हूँ
शक्ल तो तकरीबन 
वैसी ही है
जैसा देखा था
फिर यकीन क्यों नहीं होता?
अब भी लग रहा
तूँ वो नहीं है..

Comments

स्मृतियाँँ

संवाद

दहलीज

जिद्दी बच्चे

आम का पेड़

सिर्फ़ मुखौटा है

मै ये नहीं

युद्ध

I lost my sky

सफ़र

फुटपाथी