उम्मीद है

अपनी सियासत थोडी सी बंद कर दो,
हमें संभलना आता है, एक मौका तो दो,
हमारा पडोसी, अब भी हमारे साथ है,
क्या करे वह भी, थोडा डरा, परेशान है,
उसका भी घर है, परिवार है,
जब उसने, पीछे से रुक जाने को कहा,
मुझे लगा हमारे बीच,
अब भी भरोसा बरकरार है

Comments

स्मृतियाँ

सक्षम

अग्नि-परीक्षा